अभिनेता धनंजय सिंह अब भोजपुरी फिल्म ‘घरवाली बाहरवाली 3’ में यश कुमार व शुभी शर्मा के साथ दिखाई देंगे

अभिनेता धनंजय सिंह अब भोजपुरी फिल्म ‘घरवाली बाहरवाली 3’ में यश कुमार व शुभी शर्मा के साथ दिखाई देंगे

भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री में हर बार एक नए लुक में और नए किरदार में नजर आने वाले धनंजय सिंह अब भोजपुरी फिल्म ‘घरवाली बाहरवाली 3’ में दिखाई देंगे जिसमें उन्होंने अपने किरदार में कुछ नयापन लाने का प्रयास किया है। शुभी शर्मा, यश कुमार और गरिमा दीक्षित अभिनीत

भोजपुरी फिल्म ‘घरवाली बाहरवाली 3’ में उनकी भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। इस फ़िल्म की शूटिंग शुरू हो गई है। बता दें कि इस पिक्चर के पहले दो पार्ट सुपर हिट रहे हैं, अब इसके तीसरे पार्ट को लेकर सभी उत्साहित हैं।

धनंजय कुमार का कहना है कि फ़िल्म के निर्माता और निर्देशक अजय श्रीवास्तव हैं और इस फिल्म को काफी बड़े लेवल पर बनाया जा रहा है। इस फिल्म की स्टोरी फैमिली ओरिएंटेड है और इसमें दर्शकों को भावनात्मक एहसास होगा साथ ही खूब एंटरटेनमेंट भी मिलेगा। मुझे उम्मीद है कि यह तीसरा पार्ट भी पहली 2 फिल्मों की तरह लोगों को खूब पसंद आने वाला है।

भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में वर्षो से काम कर रहे धनंजय सिंह ने कहा कि घरवाली बाहरवाली 3 मेरे लिए बहुत स्पेशल फ़िल्म है। इस फिल्म में मेरा रोल बहुत ही जबरदस्त है, हीरो के दोस्त के चरित्र को लेकर काफी उत्साहित हूं।

उल्लेखनीय है कि ढेर सारी फिल्मों में खलनायक का चरित्र निभाने वाले धनंजय सिंह अब हास्य भूमिकाओं में भी अपना प्रभाव छोड़ते हैं।

गौरतलब है कि भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री में प्रतिभाशाली अभिनेता धनंजय सिंह अपना एक अलग मुक़ाम बनाते जा रहे हैं। उन्होंने फ़िल्म “दंडनायक” में यश कुमार के अपोजिट निगेटिव रोल बखूबी निभाया था और उनकी अदाकारी लोगों को काफी पसन्द आई। फ़िल्म अपहरण में भी धनंजय सिंह मुख्य खलनायक थे।

धनंजय सिंह की प्रतिभा बेमिसाल है। उनकी कई अपकमिंग फ़िल्में हैं।

अभिनेता धनंजय सिंह अब भोजपुरी फिल्म ‘घरवाली बाहरवाली 3’ में यश कुमार व शुभी शर्मा के साथ दिखाई देंगे

भारत को हिन्दू आतंकवाद के रूप में बदनाम करने की साज़िश का पर्दाफाश करती फ़िल्म “मिशन सी1000”

भारत को हिन्दू आतंकवाद के रूप में बदनाम करने की साज़िश का पर्दाफाश करती फ़िल्म “मिशन सी1000”

देश के दुश्मन कैसे हिंदुस्तान पर हिन्दू आतंकवाद का धब्बा लगाना चाहते हैं, और इस तरह पूरे विश्व में हिंदुस्तान को हिन्दू आतंकवाद के नामनपर बदनाम किया जाए, इसी ज्वलंत मुद्दे पर आधारित है फ़िल्म मिशन सी1000. यह फ़िल्म हिन्दू आतंकवाद के इसी झूठे आरोप का कड़वा सच सामने लाएगी।

एसवी क्रियेशन प्रस्तुत फ़िल्म मिशन सी1000; हिन्दू आतंकवाद के निर्माता किरणमयी, विराट और शौर्या हैं जबकि कहानी, पटकथा और संवाद लेखक तेजेश्वर हैं जिन्होंने फ़िल्म का कुशल निर्देशन भी किया है। यह फ़िल्म तेलगु, हिंदी सहित कई भाषाओं में रिलीज होगी। फ़िल्म में कई सिचुएशनल गीत भी हैं। इसमे एक रामजी पर भी गीत है वहीं एक देशभक्ति भरा गाना भी है। इसमे कालीचरण महाराज का स्पेशल अपीयरेंस भी है। फ़िल्म के एक्ज़ीक्यूटिव प्रोड्यूसर्स डॉ एलसगराम प्रभाकर, वी रामु, गोंडीकोटा श्रीनिवास, सह निर्माता टी ईश्वर और टी उमा महेंद्र (भाजपा हैदराबाद पार्लियामेंट्री कांस्टीट्यूएंसी) हैं।

फ़िल्म के नायक तेजेश्वर, हीरोइन प्रज्ञा नयन, खलनायक कबीर दुहान, संजय पाण्डेय हैं जबकि बाकी कलाकारों में जया प्रकाश, अनीश कुरुवेल्ला और सुधा हैं।

लेखक निर्देशक तेजेश्वर का कहना है कि यह सिनेमा देशभक्ति, सांस्कृतिक विरासत की बात करता है और झूठे आरोपों के विरुद्ध लड़ाई को दिखाता है।

मिशन C1000 बहुत जल्द सिनेमाघरों में रिलीज होने को तैयार है।

फ़िल्म मिशन सी1000 हिंदू अतंकवाद की कहानी नायक राम पर केंद्रित है, जिसे नायिका के पिता के अनूठे फॉर्मूले का फायदा उठाने वाले आतंकवादियों को नाकाम करने का काम सौंपा गया है। यह फिल्म भारत पर हिंदू आतंकवाद का लेबल लगाने के लिए विदेशी संस्थाओं के नापाक प्रयासों पर प्रकाश डालती है। राम इन झूठे आरोपों का मुकाबला करते हुए देशभक्ति का प्रतीक बनकर उभरता है। फिल्म का उद्देश्य युवाओं को अपनी सांस्कृतिक जड़ों को अपनाने और राष्ट्रीय प्रगति में योगदान देने के लिए प्रेरित करना है।

इस मास्टरपीस सिनेमा में प्रमुख किरदार राम को प्रधान मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री इस जरूरी काम के लिए नियुक्त करते हैं। नायक राम वीरता और भारतीय संस्कृति के साथ गहरे संबंध को जोड़ता है। यह एक ऐसी कथा है जो देश के विकास के लिए सनातन धर्म की जड़ों से जुड़ने के महत्व के बारे में संदेश देती है।

इसमे दिखाया गया है कि आतंकवादियों का लक्ष्य विश्व स्तर पर आतंकवाद फैलाने के लिए हिंदू आंतकवाद की झूठी कहानी बनाकर फैलाना है। ऐसे में राम आतंकवादियों के मिशन को असफल करने और देश की छवि को बचाने के लिए नायक के रूप में उभरते हैं। फिल्म में चित्रित राम देशभक्ति और सांस्कृतिक गौरव का प्रतीक बन जाते हैं। उनका मिशन आतंकवादियों को हराने और राष्ट्र की छवि बचाने से परे है; इसका विस्तार युवाओं को अपनी भारतीय पहचान अपनाने और राष्ट्र के विकास में योगदान देने के लिए प्रेरित करना है।

फ़िल्म की महान सिनेमैटोग्राफी देश के सार को खूबसूरती से दर्शाती है। फिल्म का प्रभाव दर्शकों पर अमिट छाप छोड़ता है। यह सांस्कृतिक जागरूकता के महत्व के बारे में बातचीत को बढ़ावा देता है और युवाओं में देश के विकास में सकारात्मक योगदान देने के लिए जिम्मेदारी की भावना पैदा करता है।

फ़िल्म का श्री रामलला गीत एसवी क्रिएशन के यूट्यूब चैनल पर जारी किया गया है। इसकी मंत्रमुग्ध कर देने वाली धुन सुनने और मनमोहक दृश्य देखने के लिए आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें

https://youtube.com/@SVCreation-6666?si=xd7vJ1AlfXhN3EOh

भारत को हिन्दू आतंकवाद के रूप में बदनाम करने की साज़िश का पर्दाफाश करती फ़िल्म “मिशन सी1000”

KUSUM KA BIYAAH Indian Hindi Film Based On A True Story Releasing On 1st March 2024

KUSUM KA BIYAAH Indian Hindi Film Based On A True Story Releasing On 1st March 2024

Kolkata, 15 February, 2024: iLEAD Films and Balwant Purohit Media proudly present the premiere of “Kusum Ka Biyaah,” a hindi film based on a true story on 13 February at Mani Square PVR, marking a significant moment in Indian cinema directed by Suvendu Raj Ghosh.

Directed by the talented Suvendu Raj Ghosh and written by Vikash Dubey and Sandip Dubey, “Kusum Ka Biyaah” boasts a stellar cast including Lovekansh Garg, Sujana Darjee and Pradip Chopra in leading roles, supported by a talented ensemble featuring Raja Sarkar,  Suhani Biswas, Panya Darshan Gupta,  Atanu Mahata, Samir Kumar Dutta, Khurshid Alam, Manoj Ojha and Raj Singh Sidhu among others.

“Kusum Ka Biyaah” narrates the tale of a middle-class mining worker and an aspiring student who agree to marry for the sake of their parents’ happiness. However, their plans take an unexpected turn when a government announcement disrupts their wedding day, leading to a series of comedic and heartwarming adventures.

This film has earned numerous prestigious awards for its portrayal of social issues and nomadic life. Mr Pradip Chopra, the lead actor and producer, was recently honored with the Best Actor Award by a prominent Bollywood Town Magazine at film award ceremony in Mumbai. Through meticulous research, the film authentically captures the traditions and lifestyle of the Santali tribe, including their intricate wedding ceremonies.

Moreover, the film’s cultural richness will be accessible to a wider audience through dubbing into Bengali, Rajvanshi, Santali, and Bhojpuri languages, sparking interest in tribal communities and beyond. Its catchy songs, beloved by Zee Music, will further enhance its appeal. Beyond entertainment, this cinematic gem serves as a compelling case study, offering invaluable insights into crisis management and prompting reflection on navigating turbulent times with foresight.

The movie “Kusum Ka Biyaah” depicts a real-life event that unfolded during the COVID-19 lockdown. The story revolves around a wedding procession traveling from Bihar to Jharkhand, which finds itself stranded at the state border due to the sudden enforcement of lockdown measures by the government. The trailer vividly portrays the chaos and challenges faced by the characters as they navigate through the unprecedented situation brought about by the pandemic.

Amidst the nationwide lockdown, imposed to curb the spread of the coronavirus, countless individuals across cities and villages found themselves in distressing situations, with life seemingly coming to a halt. The film captures the struggles encountered by Kusum’s wedding and highlights the broader impact of the pandemic on society. It serves as a poignant reminder of the resilience and endurance exhibited by people during times of crisis.

The film’s trailer and music have already garnered attention on Zee Music Company, setting high expectations for its release. As audiences eagerly waiting the much-anticipated first night of the newlywed couple, the film also delves into timely themes surrounding government bureaucracy and state to state security.

KUSUM KA BIYAAH Indian Hindi Film Based On A True Story Releasing On 1st March 2024

Rajkumar Tiwari, Editor – Publisher Of Weekly Newspaper ‘Mumbai Global’ And Puneet Khare Of ‘Mayuri Media Work’ Successfully Organized Akhand Bharat Gaurav Award 2024 In Mumbai

Rajkumar Tiwari, Editor – Publisher Of Weekly Newspaper ‘Mumbai Global’ And Puneet Khare Of ‘Mayuri Media Work’  Successfully Organized Akhand Bharat Gaurav Award 2024 In Mumbai

Akhand Bharat Gaurav Award was organized recently by Rajkumar Tiwari, editor and publisher of Mumbai’s well-known and most popular weekly newspaper ‘Mumbai Global’ and Puneet Khare of ‘Mayuri Media Work’  in the auditorium of ‘Mukti Cultural Hub’ located in Andheri (Mumbai). (Fourth Season) 2024 The ceremony was completed with great pomp. launch the program.

Chief guest Bollywood singer Padmabhushan Udit Narayan and Dr. Ajay Sahay and other guests. Mother of ‘Mumbai Global’ editor Rajkumar Tiwari The lamp was lit by Mrs. Saraswati Devi. The co-organizer of this event was Ram Prasad Sharma.

The organizer of this award ceremony, Puneet Khare, has established his unique image in the  entertainment world as a film publicist (PRO) since the 80s. Currently very active in the world  of event management. The chief guests of the awards ceremony, Bollywood singer Padmabhushan Udit Narayan and Dr. Ajay Sahay were also honored with the ‘Indian Stars Award’. In this awards ceremony, other talents related  to the film genre were also honored with awards.

Which includes Disco Dancer fame Singer Vijay Benedict,  Aman Trikha, Mohammad Ayaz, Riddhima Tiwari (TV and Film Actress), Man Kaur (Singer), Dr.Manoj Agarwal (Director),  Moses Fernandes (Action Director), Chahat Pandey (Actress), Chandrashekhar Dutta(Kerala Story fame),  Amol Prakash Bavdankar(Actor/Producer), Kavya Prakash Jadhav(Actress/Model), Dolma Thakur (Actress/Model),  Taral Patel (Model, Actress, Blogger, Social Activist), Anita Soni( Lyrics Writer), Vaishali Bhaurjar(Actress/Model),  Yatindra Rawat(Writer/Director), Mohit Tyagi(Special Effects Supervisor), Jashan Agnihotri(OTT Queen),  Akhilesh Chaudhary(National President, Manav Seva Sansthan), Sheeba Shaikh(Actress) ), Piuh  Chauhan(Indian Shakira),  Kumar Siddharth(Zoom Mantra), Madhulgana Das(South Actress), Amarjeet Singh(Business Manager),  Ashok Shekhar (Producer), Manisha Puneet Khare (President RTI Cell), Kali Das Pandey (Film Journalist),  Rakesh Kapoor (Singer), Munmun Chakraborty (Fashion Designer), Hansika Bhaware (Actress), Raju Tank (Event Organizer),  Suchita Singh (Brand Ambassador, Akhand Bharat Gaurav Award with Crown, Mother-in-Law, Certificate Trophy).

Anuradha Vishwanathan. (Miss Asia World 2023), CA Ramesh Nagar(Social Service), Israr Ahmed(Producer/Director), Dr. Jayshree Nayyar(International Peace Ambassador), Chandraprakash Majhi(International Photographer),  Shraddha Rani Sharma(Popular reality show face), Kajal Kushwaha(Actress), Parth Kotak(Editor-KS News),  Shilpi Jaiswal(Celebrity Makeup Artist), Dr. Vijay Chandak (Natureslam Co.), Ramesh Gujral(Para Commando),  Meera Joshi(Actress/Model), Dr. M. Syed Nazir(Green Activist, Environmentalist, Social Work), Yogesh Lakhani(Bright Media), Kishore D Kotagire(Businessman), Meera Kazi(Actress), Kaushik Shah(CMD, Vandu Masala), Ashutosh Pandey(Businessman), Amit Chopra (Businessman), Vijay Ahir (Director, Planning), Luvkush Notable names are Kumar Singh (Excellent Versatile Hindi Poet, Lyrics Writer), Vinod Bankar (Excellent Hair, Beauty Expert), Jitendra Salvi Bala (Natural Hair), Shailesh B Tiwari (CMD P Club Education) and Shreya Deshmukh (Actress/Model).

Vaibhav Sharma conducted the stage during the program. It is noteworthy that ‘Mumbai Global Group’ has established its identity in a short time not only in the entire country but also in the neighboring countries  with its remarkable social and cultural activities.

The Mumbai Global Awards ceremony has been organized for the last 18 years by Rajkumar Tiwari, a militant and hardworking social worker from the land of Jharkhand.

Organizer Rajkumar Tiwari says that his main objective of organizing such award shows is to encourage people  who are doing good work in their respective fields by giving them awards and to help in providing a better  platform for them.

 

Akhand Bharat Gaurav Award 2024 Ceremony Concluded In Mumbai

सोनम कपूर के करकमलो से आर्टिसन ज्वैलरी डिज़ाइन अवार्ड्स 2024 का वितरण

सोनम कपूर के करकमलो से आर्टिसन ज्वैलरी डिज़ाइन अवार्ड्स 2024 का वितरण

जीजेईपीसी के आर्टिज़न ज्वेलरी डिजाइन अवार्ड्स क्राफ्ट्ममैन के शिल्प कौशल और अतुलनीय डिजाइन का जश्न मनाते हैं और उनका सम्मान करते हैं। मुंबई में आयोजित 7वें आर्टिज़न ज्वेलरी डिज़ाइन अवॉर्ड्स में अभिनेत्री और स्टाइल आइकन सोनम कपूर शामिल हुईं।

जेम एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (जीजेईपीसी) द्वारा आयोजित और जीआईए द्वारा संचालित द आर्टिज़न ज्वैलरी डिजाइन अवार्ड्स के 7वें संस्करण ने डिज़ाइनरों को अनदेखे क्षेत्रों को छूने की चुनौती दी और अनूठे मटीरियल्स और चेरिश्ट ऑब्जेक्ट्स (अनूठे सामग्री और अभिलषित वस्तुओं) को अपने ज्वेलरी डिज़ाइन में इंटिग्रेट करने के लिए प्रेरित किया, ताकि अपने आभूषणों को एक अद्वितीय पहचान के साथ जीवंत बना सकें।

अभिनेत्री और स्टाइल आइकन सोनम कपूर ने मुंबई में जीजेईपीसी के आर्टिज़न ज्वेलरी डिज़ाइन अवार्ड्स के 7वें संस्करण की शोभा बढ़ाई और विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। सोनम कपूर ने श्री विपुल शाह (अध्यक्ष, जीजेईपीसी), श्री किरीट भंसाली (उपाध्यक्ष, जीजेईपीसी); श्री श्रीराम नटराजन (प्रबंध निदेशक, जीआईए इंडिया); श्री मिलन चोकशी (संयोजक, प्रचार एवं विपणन, जीजेईपीसी); श्री सब्यसाची रे (कार्यकारी निदेशक, जीजेईपीसी)  के साथ अपने करिश्माई आभामंडल के साथ इस भव्य मंच की शोभा बढ़ाई। उन्होंने इस कार्यक्रम में 6 कारीगर विजेताओं को प्रतिष्ठित पुरस्कार प्रदान किए।

इस वर्ष आर्टिज़न ज्वैलरी डेज़िंग अवार्ड की थीम दो अपरंपरागत थीम थीं – ‘ऑब्जेट ट्रौवे’ (फाउंड ऑब्जेक्ट्स) और ‘अनयूजुअल मटीरियल्स’।

‘ऑब्जेक्ट ट्रौवे’ की अवधारणा ज्वेलरी पीसिज़ (आभूषणों के टुकड़ों) तैयार करने पर केंद्रित है, जो समकालीन संदर्भ में अतीत से क़ीमती वस्तुओं के सार को कैप्चर करते हैं। जबकि दूसरी थीम, ‘असामान्य सामग्री’ यानी ‘अनयूजुअल मटीरियल्स’ ने डिजाइनरों को कम से कम ५०% कीमती सामग्रियों के साथ विपरीत सामग्रियों को जोड़कर जानी पहचानी और अप्रत्याशित (फैमिलियर एंड अनएक्सपेक्टेड) के बीच एक डॉयलॉग बनाने के लिए प्रोत्साहित किया।

अभिनेत्री और स्टाइल आइकन सोनम कपूर ने कहा, “मुझे आभूषण उद्योग का हिस्सा बनने पर गर्व है, यह डिजाइन और शिल्प कौशल में भारत की उत्कृष्टता को दुनिया के सामने प्रदर्शित करता है। जीजेईपीसी द्वारा आयोजित आर्टिज़न अवार्ड्स यंग टैलेंट्स (युवा प्रतिभाओं) को प्रोत्साहित करने और उनकी सफलता का जश्न मनाने के लिए एक शानदार पहल है, जो रचनात्मकता और नवीनता की सीमाओं को आगे बढ़ा रहे हैं। मेरा मानना है कि आभूषण सिर्फ एक एक्सेसरी (सहायक वस्तु) नहीं है, बल्कि एक कला है जो किसी के व्यक्तित्व और शैली को व्यक्त करती है। मैं उन भारतीय डिजाइनरों की प्रशंसा करता हूं जो परंपरा और आधुनिकता को मिश्रित करने वाले आश्चर्यजनक गहने बनाते हैं, और महिलाओं को विभिन्न रूपों और रंगों के साथ प्रयोग करने के लिए प्रेरित करते हैं। मेरे लिए, किसी ज्वेलरी पीसिज़ (आभूषण के टुकड़े) का कलात्मक मूल्य भौतिक मूल्य से अधिक है, और यही इसे वास्तव में मूल्यवान बनाता है।

———-मुंबई प्रतिनिधी : रमाकांत मुंडे

सोनम कपूर के करकमलो से आर्टिसन ज्वैलरी डिज़ाइन अवार्ड्स 2024 का वितरण



« Previous Entries